शिवराज क्या चोरी छिपे बहु लाएंगे ?

खबर नेशन / Khabar Nation
मम्मी तो मम्मी बेटा सुबान अल्लाह.....

चार बांस चौबीस गज, अंगुल अष्ट प्रमाण,
ता ऊपर सुल्तान है, मत चूको चौहान हैं। उक्त पंक्तियां इन दिनों मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के लिए उनके एक समर्थक द्वारा कही जा रही हैं । इन पंक्तियों को शिवराज तो चरितार्थ कर ही रहे हैं अब उनकी राजनीतिक विरासत के सहारे शिवपुत्र कार्तिकेय सिंह चौहान चरितार्थ करने में लग गए हैं । राजनैतिक जमीन तैयार मिल रही है सो इन दिनों कार्तिकेय प्रशासनिक दखलंदाजी की इबारत लिख रहे हैं । प्रशासनिक गलियारों में चर्चाएं हैं कि जिस गति से कार्तिकेय दखल दे रहें हैं उसमें वे अपने ताऊ, मम्मी,मामा को भी पीछे छोड़ देंगे । अब इस बात की जानकारी शिवराज को है या नहीं पर अपने पास पुख्ता जानकारी है कि दो अंको में की जाने वाली करोड़ों का लेन-देन शिवपुत्र के नाम पर किया गया है । इस लेन-देन में शिवराज के एक खास समर्थक और शिवराज टीम के निजी मैनेजर की जबरदस्त भूमिका है।

शिवराज क्या चोरी छिपे बहु लाएंगे ?

अब जब बात चली है तो इस बात का भी खुलासा हो जाना चाहिए। जिसकी चर्चा पिछले तीन चार दिनों से सोशल मीडिया और राजनैतिक एवं प्रशासनिक गलियारों में छाई रही । अचानक चर्चा उठी की शिवराज अपने पुत्र कार्तिकेय की शादी कर रहे हैं । मध्यप्रदेश की साढ़े आठ करोड़ जनता का पुजारी और भ्रष्ट अफसरों एवं राजनेताओं की आंख का तारा क्या चोरी छिपे अपने बेटे की शादी करेगा । मामला राजनैतिक अस्थिरता के बीच खुलते हुए अनलॉक और शिवराज द्वारा तय की गई प्रक्रिया में संदेह पैदा करता रहा । क्योंकि शिवराज तो आपदा में अवसर तलाशने में माहिर हैं फिर तो बात बेटे की शादी की थी। सुना है शादी की चर्चाएं एक पूर्व मंत्री की बेटी या किसी उच्च स्तर के अधिकारी की बेटी से होने की चल रही थी । शिवराज बेटे की शादी चोरी छिपे करने से रहे ।

कुल्हाड़ी पर पैर रखने के आदी शिवराज

चौतरफा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को राजनीतिक मुसीबतें घेरे हुए हैं । इसके बावजूद शिवराज कुल्हाड़ी पर पैर रखने से बाज नहीं आ रहे। अब ताजा मामला एक ओ एस डी की नियुक्ति और उसकी एजेंसी को प्रचार प्रसार का ठेका दिए जाने का है। तुषार पांचाल के ताजे ताजे आदेश जारी करने की खबर है । तुषार शिवराज की छवि बनाएंगे या बिगाड़ेंगे यह भविष्य में पता पड़ेगा। पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा का ताजा ट्वीट गौरतलब है । सलूजा ने तुषार नाम के व्यक्ति के ट्वीट का स्क्रीनशॉट जारी किया है। जिसमें तुषार कह रहे हैं कि किस्मत हो तो मोदी जैसी । सवाल पूछने के लिए ऑफिस विपक्ष का नेता नहीं और घर पर बीवी नहीं । सलूजा सवाल करते हूए तंज भी कस रहे हैं कि इससे शिवराज जी का मोदी प्रेम साफ झलक रहा है......?

तुम तो ऐसे नहीं हो मनीष

अपनी ईमानदारी को लेकर चर्चित एक आए ए एस दंपति विवादों को खड़ा करने लगे हैं । बात ई टेंडरिंग घोटाले को खोलने वाले मनीष रेस्तोगी की है। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में जब ऑक्सीजन की किल्लत खड़ी हो गई तो मध्यप्रदेश के एक सरकारी विभाग ने अपने नाइट्रोजन टैंकरों को लिक्विड ऑक्सीजन के परिवहन के लिए तैयार कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया । सुना है आगे बढ़कर ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने में सहयोग करने वाले अफसरों को बुलाकर मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव ने जबरदस्त फटकार लगा दी । वजह बड़ी मासूम थी कि टैंकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में सौंपे जाना चाहिए था । कम से कम एक फोटो रिकॉर्ड में और बढ़ जाती ।

यहां के हम हैं राजकुमार

दूरभाष सेवाओं को केन्द्र से लेकर राज्य और जिले के अधिकारी अत्यावश्यक सेवाओं में मानते हैं । इस बात की घोषणा दस्तावेजों में भी दर्ज है । यहां के हम हैं राजकुमार सो इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में अनलॉक शुरू होने के बाद भी मोबाइल आपरेटरों को राहत की सांस नहीं दे रहे हैं 

Share:

Next

शिवराज क्या चोरी छिपे बहु लाएंगे ?


Related Articles


Leave a Comment