अजा मोर्चा, अनुसूचित जाति वर्ग और भाजपा के बीच सेतु बनेः आर्य

राजनीति Mar 13, 2018

अंबेडकर जयंती पखवाड़ा में सम्मान यात्रा और प्रतिभा सम्मान कार्यक्रम आयोजित होगा: कैरो
 

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों, संभाग प्रभारियों, समिति संयोजकों और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री लालसिंह आर्य ने कहा कि देश और प्रदेश में अनुसूचित जाति वर्ग, पिछड़ा वर्ग, जनजाति भारतीय जनता पार्टी की रीति-नीति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रनिष्ठा, जनता के प्रति संवेदना और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन हितैषी योजनाओं पर आसक्त हैं और भारतीय जनता पार्टी के समर्थन में खड़ी हैं। अनुसूचित जाति मोर्चा पार्टी और इस वर्ग के बीच सेतु का कार्य करे। उन्होंने कहा कि विगत दो उपचुनावों में मोर्चा की सक्रिय भागीदारी से पार्टी संगठन को लाभ हुआ हैं और उस क्षेत्र में कांग्रेस की लोकप्रियता सिमट कर रह गई हैं। उन्होंने कहा कि मोर्चा अपना सारा ध्यान बस्ती पर केन्द्रित करे। पार्टी को समयदानी कार्यकर्ता की तरह सहयोग करें। इसका लाभ व्यक्ति को मोर्चा के कार्यकर्ताओं को उनकी बढ़ती हुई स्वीकार्यता के रूप में हासिल होगा। उन्होंने 14 अप्रैल को प्रदेश में सभी संभागों, जिलों में डाॅक्टर भीमराव अंबेडकर जयंती के प्रभावी कार्यक्रम आयोजित करने का आव्हान किया।
 

लालसिंह आर्य ने हर कार्यकर्ता से सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाने और अधिक से अधिक लोगों से संवाद करने का आग्रह करते हुए कहा कि हमें डॉ. भीमराव अंबेडकर के जीवन से प्रेरणा लेने की आवश्यकता हैं। उन्होंने बाल्यकाल में अपमान का घूंट पिया और विद्वत्ता हासिल की। उनकी सकारात्मकता का इससे बड़ा प्रमाण क्या होगा कि उन्होंने भारत का संविधान रचा और उसमें समरसता की बात कही लेकिन कहीं भी उनमें प्रतिशोध की भावना नजर नहीं आई। मोर्चा के प्रदेश प्रभारी बुद्धसेन पटेल और अनुसूचित जाति मोर्चा के संस्थापक संदस्य नारायण सिंह केसरी ने भी बैठक को संबोधित किया।
 

बैठक को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता नारायण केसरी ने कहा कि अनुसूचित जाति मोर्चा का प्रत्येक सदस्य पार्टी का न्यासी हैं और उसे हर समय पार्टी हित और पार्टी की सरकार की चिंता करते हुए जनता और पार्टी के बीच समन्वय बनाने की आवश्कता हैं। उन्होंने कहा कि पिछले उपचुनाव में अनुसूचित जाति के मतदाताओं ने बड़ी संख्या में पार्टी का समर्थन किया हैं। इस बात पर हमें गर्व हैं। पार्टी के प्रदेश मंत्री एवं मोर्चा के प्रदेश प्रभारी बुद्धसेन पटेल ने कहा कि अनुसूचित जाति मोर्चा पार्टी का सशक्त स्तंभ हैं, इसके ऊपर ही पार्टी की मजबूती निर्भर हैं। हमें मोर्चा को मंडल स्तर तक सशक्त बनाना हैं और हर बस्ती में पार्टी का तानाबाना बुनकर जनता को सरकार की उपलब्धियों और पार्टी की रीति-नीति से रूबरू करने की आवश्यकता हैं। इस अवसर पर पार्टी पदाधिकारियों, संभाग प्रभारियों, समिति के संयोजकों ने विषयवार अपनी प्रगति की समीक्षा की और आने वाले कार्यक्रमों को सफलतापूर्वक आयोजित करने का संकल्प व्यक्त किया।
 

अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सूरज कैरो ने कहा कि पार्टी और मोर्चा गुड़ीपड़वा पर भव्यतम कार्यक्रम आयोजित करेगा। 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती से पूरा पखवाड़ा मनाया जायेगा। इस दौरान सम्मान यात्रा निकाली जायेगी और समाज के प्रतिभावान, ऊर्जावान व्यक्तियों का मोर्चा द्वारा सम्मान किया जायेगा। 30 अप्रैल को बुद्ध जयंती और कबीर जयंती जैसे आयोजन संपन्न किये जायेंगे।
 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने डाॅ. अंबेडकर को प्रतिष्ठा देते हुए पंचतीर्थ की स्थापना की हैं। विडंबना की बात यह हैं कि जिस कांग्रेस ने कभी डाॅ. अंबेडकर को लोकसभा में नहीं पहुंचने दिया उनके जन्म स्थान पर निर्माण के नाम पर एक ईंट भी नहीं लगाई, वह आज अंबेडकर के नाम पर समर्थन मांगते हुए समाज के साथ धोखा करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने सभी बस्तियों में कार्यक्रम आयोजित करने और मोर्चा को सशक्त बनाने के लिए मोर्चा का महिला विंग, युवा विंग और छात्रावास विंग को मजबूत करने का आग्रह किया। महिलाओं के समूह का नेतृत्व मोहनी साक्यवार को सौंपा गया। इसी प्रकार युवा और छात्रावास समूह की प्रभारी को सक्रियता से कार्य करने का आग्रह किया गया। मोर्चा द्वारा आईटी, मीडिया और सोशल मीडिया की विंग को सशक्त बनाने के लिए कार्यशाला आयोजित करने का बैठक में निर्णय लिया गया। (खबरनेशन / Khabarnation)
 

Share:


Related Articles


Leave a Comment