इस अंदाज की तारीफ तो बनती है राहुल

विश्वास समन्वय और सम्मान का मिला जुला रूप

खबरनेशन/Khabarnation  

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के  लोकसभा चुनाव 2019 का घोषणा पत्र हम निभाएंगे जारी किए जाने वाले कार्यक्रम में राहुल गांधी का अंदाज देखने काबिल था । इस अंदाज में आत्मविश्वास के साथ साथ सहयोग, समन्वय और सम्मान की झलक देखने को मिली ।

पहली घटना जब राहुल गांधी ने ध्यान आकृष्ट किया तब जब घोषणा पत्र को जारी करते समय भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को पैकेट खोलने में थोड़ी कठिनाई हो रही थी । 

राहुल गांधी ने अचानक उनके हाथ से पैकेट में से घोषणा पत्र की कॉपी निकाल कर मनमोहन सिंह के हाथ में थमा दी। यह एक अपने वरिष्ठ के प्रति सम्मान प्रदान करने का नजरिया था।

जब पत्रकारों ने सवाल पूछना शुरू किए तो राहुल बैठे हुए जवाब दे रहे थे ।लेकिन बैठकर जवाब देने में असहजता महसूस करते हुए राहुल अचानक खड़े हुए और पत्रकारों के सवालों का जवाब देने लगे। इस दौरान उनका आत्मविश्वास देखने लायक था । 

यहां यह बात भी गौर करने लायक रही कि उन्होंने कार्यक्रम के संचालक रणदीप सुरजेवाला को इशारों में यह भी संकेत दिया कि मंच पर यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और घोषणा पत्र संयोजक पी चिदंबरम मौजूद है तो पत्रकार उनसे भी सवाल करें । सुरजेवाला के आग्रह के बाद भी पत्रकारों ने सवालों के जवाब राहुल से ही चाहे। राहुल का यह कदम समन्वय को प्रगट कर रहा था।   पत्रकार वार्ता समाप्त होने के बाद सम्मान का अवसर एक बार फिर देखने मिला । जब राहुल गांधी ने मनमोहन सिंह को आगे जाने का रास्ता दिया।

Share:

Next

इस अंदाज की तारीफ तो बनती है राहुल


Related Articles


Leave a Comment