वल्लभ भवन बना दलालों का अड्डा: शिवराज

राजनीति Jun 19, 2019

खबर नेशन/Khabar Nation  

श्री चौहान ने कहा कि वल्लभ भवन दलालों का अड्डा बन गया है। कर्मचारी, अधिकारी पैसे लेकर पोस्ट किए जा रहे है और यह अधिकारी जब पैसा देकर जाते है तो गरीबों पर अत्याचार करते है। उनसे पैसा लूटने की कोशिश करते है। पुलिस बर्बरतापूर्वक कार्रवाही कर रही है। उन्होंने कहा कि मेरे पास ऐसे अन्याय सहन करने वाले कई मामले संज्ञान में आए है। चौहान ने आंदोलन में शामिल होने आए आदिवासियों को भदभदा के समीप रोके जाने पर कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा कि लोकतंत्र में सबको अपनी बात रखने का अधिकार है। आदिवासियों ने अपनी मांगे रखने के लिए आंदोलन की अनुमति ली, लेकिन धरना स्थल से कई कि.मी. दूर ही पुलिस अफसरों ने रोक लिया। तमाम भूखे, प्यासे, महिलाएं और बच्चे पैदल धरना स्थल पर पहुंचे है। यह कहां की मानवीयता है कि ऐसी विद्वेषपूर्ण कार्रवाही की जाए। उन्होंने कमलनाथ सरकार को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि इन आदिवासियों की लड़ाई में लडूंगा, पीछे नहीं हटूंगा। चाहे प्राण भी क्यों न चले जाए।

वन विभाग के रेंजर बन गए डेंजर

श्री चौहान ने कहा कि प्राकृतिक संसाधनों पर हर गरीब और आदिवासी का हक है, जिन जमीन के टुकड़ों पर आदिवासी वर्षों से खेती कर रहे थे, उन्हें भाजपा सरकार मालिकाना हक देने का काम किया। लेकिन वक्त बदलते ही अब आदिवासियों पर प्रदेश सरकार अत्याचार कर रही है। आदिवासियों की उन जमीनों पर फॉरेस्ट विभाग पहुंचकर डराने-धमकाने का काम कर रहा है। वन विभाग के जिन अधिकारियों की आवाज नहीं निकलती थी। अब कमलनाथ सरकार में वह रेंजर भी डेंजर बन गए हैं। वनवासियों को डराया-धमकाया जा रहा है। उन्हें हटाने और मिटाने की धोस दी जा रही है। उन्होंने कहा कि आदिवासी भाईयों आप चिंता न करें, जब तक मामा जिन्दा है, अन्याय नहीं होने देगा।

Share:


Related Articles


Leave a Comment