भ्रष्टाचार ने रोकी नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता

 

कोरोना काल में नहीं पसीजा सरकारी तंत्र

खबर नेशन / Khabar Nation

भोपाल।  कोरोना काल के चलते जहां एक तरफ सरकार  डॉक्टरों और नर्सों का सम्मान कर रही है. वहीं दूसरी तरफ नर्सिंग  कॉलेजों का 2021 22 का नया सत्र चालू करने में देरी कर रही है। आम आदमी पार्टी के जिला उपाध्यक्ष प्रदीप खंडेलवाल ने अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा को एक ज्ञापन  दया है। जिसमें उन्होंने अपर सचिव को अवगत कराया है कि कई नर्सिंग कॉलेज संचालकों को फोन करके दलालों के माध्यम से  प्रति सीट ₹10000 और कॉलेजों की   मान्यता नवीनीकरण को लेकर ₹50000 की मांग की जा रही है। जिसके चलते नर्सिंग कॉलेजों के नए सत्र प्रारंभ नहीं हो पा रहे हैं । उन्होंने अपर मुख्य सचिव से अनुरोध किया है कि छात्रों की पढ़ाई को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द कॉलेजों की समस्या का निराकरण करें ।

Share:

Next

भ्रष्टाचार ने रोकी नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता


Related Articles


Leave a Comment