हाई-वे जंक्शन्स के आसपास की गुमटियाँ हटवायें जिला कलेक्टर

राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति के नोडल अधिकारियों की बैठक सम्पन्न 

भोपाल। प्रदेश में हाई-वे जंक्शन्स के आसपास की गुमटियों को हटवाने के लिये कलेक्टरों को विभाग प्रमुख द्वारा निर्देश जारी करवाये जायें। इन गुमटियों से जंक्शन पर विजिबिलिटी कम हो जाती हैं और वहाँ दुर्घटना की संभावनाएँ बढ़ जाती हैं। राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति के नोडल अधिकारियों की बैठक में सड़क सुरक्षा के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई। अध्यक्षता पीटीआरआई के पुलिस उप महानिरीक्षक इन्दुप्रकाश अरजरिया ने की।

बैठक में तय किया गया कि टेक्निकल प्वाइन्ट ऑफ व्यू से हाई-वे जंक्शन्स पर 20 से 30 मीटर दूरी पर स्पीड ब्रेकर बनाये जायें और साइन बोर्ड लगाये जायें। बताया गया कि 55 प्रतिशत दुर्घटनाएँ राष्ट्रीय राजमार्ग पर होती हैं। बैठक में सड़क निर्माण में निर्धारित ऑडिट प्वाइन्ट से भी समिति को अवगत करवाने की आवश्यकता बताई गई। जानकारी दी गई कि राज्य सड़क सुरक्षा परिषद् की आगामी बैठक गृह मंत्री की अध्यक्षता में जुलाई माह में संभावित हैं।

समिति ने स्कूल शिक्षा विभाग से कहा कि सड़क सुरक्षा संबंधी विषय के जरिये स्कूली बच्चों में जागरूकता बढ़ाने का प्रयास करें। पाठ्यक्रम में जोड़े गये सड़क सुरक्षा संबंधी अध्याय से समिति को भी अवगत करवाया जाये। बैठक में सड़क निर्माण से संबंधित विभागों से उनके ब्लेक स्पॉट पर चर्चा की गई। विगत तीन वर्ष में आधा किलोमीटर के दायरे की सड़क पर पाँच दुर्घटना और 10 से अधिक मृत्यु होने वाले स्थानों को ब्लेक स्पॉट की श्रेणी में रखा जाता हैं। प्रदेश में अभी ऐसे 616 ब्लेक स्पॉट चिन्हित किये गये हैं। बैठक में रोड सेफ्टी एजुकेशन पर भी चर्चा की गई।

बैठक में उप पुलिस अधीक्षक आर.के. केवट सहित ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, सड़क विकास निगम, परिवहन, वाणिज्यिक कर, स्कूल शिक्षा, नगरीय विकास और जनसम्पर्क विभाग के नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

(खबरनेशन / Khabarnation)
 

Share:

Next

हाई-वे जंक्शन्स के आसपास की गुमटियाँ हटवायें जिला कलेक्टर


Related Articles


Leave a Comment