सोशल मीडिया का उपयोग मतदान को बढ़ावा देने के लिये किया जायेगा

खबरनेशन/Khabarnation  
जनसम्पर्क अधिकारियों की सोशल मीडिया पर राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला सम्पन्न
 
भोपाल :मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल.कान्ता राव ने सोशल मीडिया पर आयोजित राज्य स्तरीय कार्यशाला में कहा कि आज युवा पीढ़ी को निर्वाचन प्रक्रिया से अवगत कराने और जागरूक करने के लिये सोशल मीडिया सबसे प्रभावी प्लेटफार्म है। देश के अधिकांश युवा सोशल मीडिया साइट पर एक्टिव रहते हैं। उनकी इसी सक्रियता का उपयोग कर चुनाव में मतदान के लिये उन्हे प्रेरित और जागरूक करना हैं।

श्री राव ने कहा कि विधानसभा चुनाव-2018 मे सोशल मीडिया का उपयोग निर्वाचन की विभिन्न प्रक्रियाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार में भी किया जायेगा। सोशल वेबसाईट ,फेसबुक, ट्वीटर, यू-टयूब, व्हाट्सएप और ऐसी ही अन्य साइट पर निर्वाचन आयोग निगाह रखेगा और गलत प्रचार-प्रसार की शिकायत होने पर कार्यवाही भी करेगा । सोशल साइट के बेहतर उपयोग, आदर्श आचरण संहिता के पालन और अपनी बात मतदाताओं, राजनैतिक दलों, प्रत्याशियों तक पहुंचाने के लिये भी निर्वाचन आयोग सोशल साइट का उपयोग करेगा।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री विकास नरवाल ने कार्यशाला की आवश्यकता बताते हुए कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से वोट देने का माहौल बनाना चाहिये । कार्यशाला में जिलों के जनसम्पर्क अधिकारी, एन.आई.सी के अधिकारी और सोशल मीडिया सहायकों को दिल्ली से आई सुश्री दीपा स्याल संचालक, पकंज दुबे मास्टर ट्रेनर, सुनील वर्मा सहायक संचालक ने प्रशिक्षण दिया।

Share:

Next

सोशल मीडिया का उपयोग मतदान को बढ़ावा देने के लिये किया जायेगा


Related Articles


Leave a Comment